cVIGIL app: 5 राज्यों में चुनावों का ऐलान हो गया है, वोटिंग में धांधली रोकने में मददगार बनेगा cVIGIL App, जानें आप कैसे कर पाएंगे शिकायत

cVIGIL app: चुनाव आयोग ने सी-विजिल ऐप को चुनावों में होने वाली गड़बड़ियों को रोकने के लिए तैयार किया है. इसकी मदद से आप चुनावी आचार संहिता के उल्लंघन की जानकारी दे सकते हैं.

Election Commission 2022 Dates: उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर के विधानसभा चुनाव का शनिवार को औपचारिक ऐलान हो गया है, आगामी 10 फरवरी से 7 मार्च तक 7 चरणों में मतदान होगा.

नतीजे 10 मार्च को घोषित किए जाएंगे. इस बीच किसी भी तरह की गड़बड़ियों पर चुनाव आयोग (Election Commission) एक्शन लेगा. चुनावों में अक्सर गड़बड़ियों की शिकायतें आती रही हैं.

संज्ञान में आने पर आयोग की ओर से कार्रवाई भी की जाती है. आम नागरिक भी चुनाव में होने वाली गड़बड़ियों की शिकायत सीधे आयोग से कर सकता है. इसके लिए आयोग ने  सी विजिल ऐप (cVIGIL App) बनाया है.

cVIGIL app

cVIGIL App ने किया दावा

आयोग का दावा है कि इस एप के माध्यम से आने वाली हर शिकायत पर 100 मिनट के अंदर कार्रवाई की जाएगी। गड़बड़ी का सबूत देने के लिए मतदाता फोटो और वीडियो भेज सकते हैं।

यानी इस एप के जरिए मतदाता भी चुनाव में निगरानी कर सकते हैं। एप के माध्यम से मतदाता फोटो और वीडियो के साथ जहां गड़बड़ी हो रही हो उस स्थान की लोकेशन भी भेज सकते हैं और लिख कर पूरी जानकारी उपलब्ध करवा सकते हैं।

cVIGIL App क्या है?

चुनाव में होने वाली गड़बड़ियों की शिकायत के लिए बनाया गया एप्प जहाँ आम नागरिक फ़ोटो, वीडियो के साथ जहाँ भी वोटिंग को लेकर गड़बड़ी हो रही है वहाँ शिकायत कर सकता है।

यह भी पढ़े

Election Dates 2022, 5 राज्यों की चुना

 UP District Wise Election Date 

cVIGIL App kase use kare?

कैसे कर सकते हैं शिकायत?

इस ऐप पर शिकायत करने के लिए यूजर के पास एंड्रॉयड स्मार्टफोन या आईफोन होना चाहिए. इसमें कैमरे, इंटरनेट कनेक्शन और GPS एक्सेस की जरूरत होती है. कोई भी नागरिक, आचार संहिता के उल्लंघन, मतदान की गड़बड़ियों की शिकायत या रिपोर्ट, घटना के कुछ ही मिनटों में कर सकते हैं. इसके लिए उन्हें रिटर्निंग अधिकारी के पास जाने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी.

  • ऐप इन्स्टॉल करने के बाद आपको नाम, पता, राज्य, जिला, विधानसभा और पिनकोड की जानकारी देते हुए रजिस्ट्रेशन करना होगा.
  • शिकायत करने के लिए एक OTP की मदद से इसका वेरिफिकेशन किया जाएगा. वेरिफाई होने के बाद फोटो या कैमरे वाले विकल्प को सेलेक्ट करना होगा.
  • आप कोई फोटो या फिर 2 मिनट तक की वीडियो ऐप पर अपलोड कर सकते हैं. फोटो या वीडियो से जुड़ी डिटेल्स को संबंधित कॉलम में भरना होगा.
  • चुनाव आयोग को फोटो/वीडियो की लोकेशन भी पता चल जाती है. इसके बाद आपको एक यूनीक आईडी मिलेगी, जिसके जरिये आप अपनी शिकायत को ट्रैक कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *