Deva Gurjar Murder :गैंगवार में देवा डॉन के मर्डर पर कोटा में बवाल:भीड़ ने रोडवेज की बस फूंकी; मॉर्च्युरी के बाहर चले पत्थर, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

Deva Gurjar Murder case: राजस्थान के रावतभाटा में सोमवार को एक हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर की कुछ बदमाशों ने बेरहमी से हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार हत्यारो चेचट इलाके के बदमाश हाे सकते हैं। हत्या के पीछे वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है। दो कारों 8 से 10 बदमाश आए और ताबड़तोड़ कुल्हाड़ी और लोहे के पाइप से हमला किया। फायरिंग भी की।

गैंगवार में हिस्ट्रीशीटर डॉन देवा गुर्जर के मर्डर के बाद कोटा में मंगलवार को भीड़ ने जमकर बवाल किया। गुर्जर की हत्या के विरोध और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बोराबास (कोटा) और शहर में मॉर्च्युरी के बाहर उसके समर्थकों हंगामा शुरू कर दिया।

Deva Gurjar Murder case जाने अब तक का मामला

गुर्जर की हत्या के विरोध और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बोराबास (कोटा) और शहर में मॉर्च्युरी के बाहर उसके समर्थकों हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस पर पत्थरबाजी की। पुलिस ने भी लाठियां चलाकर लोगों को खदेड़ा है। वहीं, बोराबास (कोटा) में आज सुबह प्रदर्शन कर रहे लोगों ने रोडवेज की बस में आग लगा दी। कई में तोड़फोड़ की।

बता दें कि सोमवार को हथियारों से लैस बदमाशों ने रावतभाटा (चित्तौड़गढ़) में हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर को मौत के घाट उतार दिया था। उधर, पोस्टमार्टम कराने के बाद देवा के शव को फिलहाल मॉर्च्युरी में ही रखा गया है। मौके पर जुटे लोगों को हटा दिया गया है। वहीं, बोराबास में समाज के लोगों ओर प्रशासन के बीच सहमति नहीं बनी। यहां बड़ी संख्या में लोग एक बार फिर सड़क पर जाम लगाकर बैठ गए।

ये है मामला
दरअसल, रावतभाटा में कोटा बैरियर डैम रोड पर सैलून में बीच बाजार में दिनदहाड़े बोराबास (कोटा) निवासी 40 वर्षीय देवागुर्जर पर गंडासे, धारदार हथियारों, कुल्हाड़ी, रिवाल्वर से फायर कर हमला किया गया। घटना सोमवार शाम लगभग 5.30 बजे की है। इस घटना में सैलून 10 से 15 लोग 2 वाहनों में हथियारों से लैस होकर आए और आनन-फानन में फायर किए। फिर कुल्हाड़ी से गले पर भी वार किया। गंडासे और अन्य हथियार भी थे। घटना आपसी रंजिश की बताई जा रही है। 

जाम लगाकर बसों में लगाई आग

Deva Gurjar Murder
सोमवार शाम को डॉन देवा गुर्जर की मौत की खबर फैलते ही उसके समर्थकों का जुटना शुरू हो गया था। मंगलवार सुबह आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर समर्थकों ने कोटा-रावतभाटा मार्ग पर पहले तो जाम लगा दिया। इसके बाद वहां से निकल रही दो रोडवेज बसों में समर्थकों ने आग लगा दी। बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारियों ने बस के स्टॉफ व कुछ सवारियों से भी मारपीट की। सूचना पर पुलिस का जाप्ता और नगर निगम की दमकल मौके पर पहुंची। निगम की दमकलों ने आग पर काबू पाया। वहीं, जाम लगने से कोटा से रावतभाटा जाने वाले व रावतभाटा से कोटा आने वाले यात्रियों को परेशानी हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *