फॉलोअप शिविर: अगर आपका भी रह गया बाकी कोई काम प्रशासन गांवों के संग अभियान में तो हो जाये तैयार सरकार लगा रही है वापस शिविर

राजस्थान: सरकार द्वारा चलाए गए प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत ग्राम पंचायतों में शिविर आयोजित किए गए थे। जिनमे काफी लोगो के काम अधूरे रह गये या कुछ कारणों से पूरे नही हुवे उनके लिए खुसखबरी

अब राजस्थान सरकार उन सबके लिए वापस एक बार शिविर (follow up camp)  आयोजित कर रही है।

Note: ध्यान रहे ये की फॉलोअप शिविर अब ग्राम पंचायत पर ना होकर पंचायत मुख्यालय पर आयोजित होगा 

अगर आपका कोई भी काम है तो आपको पंचायत मुख्यालय पर जाना होगा।

 

राजस्थान : उपखंड अधिकारी जेपी बैरवा ने बताया कि अभियान के तहत आयोजित शिविरों में भूमि के पट्टा बनाने के साथ कटानी रास्ते, आवासीय भूमि नियमन, कृषि भूमि पट्टा, सरकारी योजनाओं के तहत पात्र को योजना का लाभ दिलवाने सहित ग्रामीणों के विभिन्न पेंडिंग कार्यों एवं समस्याओं का मौके पर ही निस्तारण किया गया।

फॉलोअप शिविर follow up camp

इस दौरान 28 विभागों के अधिकारी शिविर में एक साथ एक स्थान पर मौजूद रहे।

 जिला कलेक्टर नागौर जितेंद्र कुमार सोनी के निर्देशानुसार प्रशासन गांवों के संग अभियान के फॉलोअप शिविर आगामी सोमवार 3 जनवरी 2022 से 14 जनवरी तक पंचायत मुख्यालय पर आयोजित होंगे।

जिसके तहत अभियान के दौरान ग्रामीणों के बकाया रहे कार्यों व समस्याओं का निस्तारण किया जाएगा।

नागौर टाइम्स से जुड़े

फॉलोअप शिविर follow up camp: मकराना तहसील के गावो के लिए

फॉलोअप शिविर follow up camp के तहत उपखंड अधिकारी के प्रभार में

  • 3 जनवरी को ग्राम पंचायत बरवाली, गच्छीपुरा, हुड़िया, राणीगांव के लिए फॉलोअप शिविर आयोजित होगा। इसी प्रकार
  • 4 जनवरी को कूकड़ोद, जाखली, जूसरिया, कालवा बड़ा के लिए
  • 5 जनवरी को भैया कलां, भरनाई, भींचावा, सरनावड़ा, धानणवां के लिए शिविर आयोजित होंगे।
  • 6 जनवरी को चाण्डी, गेहड़ाकलां, सफेड़ बड़ी, सबलपुर, खारड़िया,
  • 7 जनवरी को आसरवा, रामसिया, डोबड़ी कलां, इन्दोखा, नान्दोली मेड़तिया,
  • 10 जनवरी को अलतवा, मोडी चारण खेड़ी सिला, नीमड़ी बाजोली में शिविर आयोजित होगा
  • 12 काशीनगर मामडोली देवरी जुसरी मनाना
  • 13 बेसरोली गेलासर

मकराना के अलावा अन्य तहसील के लिए

 

 

One thought on “फॉलोअप शिविर: ग्राम पंचायत मुख्यालय पर कल से प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत शिविर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *