kushinagar ka hadsa: कुशीनगर में कुएं में गिरने से 9 लड़कियों समेत 11 लोगों की मौत, सीएम योगी ने जताया दुःख

Kushinagar ka hadsa News: कुशीनगर में बुधवार की रात बड़ा हादसा हो गया. कुएं में गिरने से 9 लड़कियों और 2 महिलाओं की मौत हो गई. सीएम योगी ने हादसे पर दुःख जताया है.

Kushinagar ka hadsa News:

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में बुधवार देर रात बड़ा हादसा हो गया. यहां एक कुएं में गिरने से 11 लोगों की मौत हो गई. इनमें 9 लड़कियां और दो महिलाएं शामिल हैं. मामला नेबुआ नौरंगिया थाना क्षेत्र का है.

kushinagar ka hadsa

कई महिलाएं गंभीर रूप से घायल

यह भी पढ़े

बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ दर्जन महिलाएं गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सभी हल्दी के दिन मटकोड़वा की रस्म के लिए पहुंची थीं और एक कुंए के पास खड़ी थीं. तभी अचानक कुएं पर लगी लोहे की जाली टूट गई और बड़ा हादसा हो गया.

मांगलिक कार्यक्रम परमेश्वर कुशवाहा के घर पर था. मामले की जानकारी होते ही जिलाधिकारी और पुलिस कप्तान मौके पर पहुंचे और हादसे की जानकारी ली.

सीएम योगी ने जताया दुःख

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर के नेबुआ नौरंगिया थाना क्षेत्र में कुएं में गिरने की दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने संबंधित अधिकारियों को तत्काल बचाव व राहत कार्य संचालित कराने तथा घायल लोगों का समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए हैं.

नही मिली कोई टाइम से एंबुलेंस

घटनास्थल पर मौजूद लोग बता रहे हैं कि इस हादसे के बाद अफरा-तफरी का माहौल था. लोग मदद के लिए इधर से उधर भाग रहे थे. कहा जा रहा है कि एंबुलेंस के लिए कई बार फोन किया गया था. दस लोगों ने समय-समय पर एंबुलेंस के लिए फोन किया, लेकिन मदद करने कोई एंबुलेंस नहीं पहुंची. ये हालात तब देखने को मिले जब इलाके में सिर्फ तीन किलोमीटर दूर ही एक अस्पताल मौजूद है.

लोगों का कहना है कि डेढ़ घंटे तक एंबुलेंस के लिए फोन मिलाया गया, हर बार जवाब मिलता कि बस आ रही है, लेकिन मौके पर कोई एंबुलेंस नहीं पहुंची. अब जो जिम्मेदारी अस्पताल प्रशासन को निभानी थी, वो काम वहां की लोकल पुलिस ने किया. वहां मौजूद लोग बता रहे हैं कि उनके कॉल करने के तुरंत बाद सहायता के लिए पुलिस पहुंच गई थी. उन्हीं की तरफ से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया और फिर पुलिस गाड़ी में ही कई घायलों को अस्पताल ले जाया गया

मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख की आर्थिक सहायता

डीएम राजलिंगम ने कहा कि नेबुआ नौरंगिया में हुए हादसे में मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। रेस्क्यू आपरेशन में जिनकी भी लापरवाही समाने आएगी, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

One thought on “kushinagar ka hadsa: कुशीनगर में कुएं में गिरने से 9 लड़कियों समेत 11 लोगों की मौत, शादी में छाया मातम”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *