National Youth Day 2022: राष्ट्रिय युवा दिवस 2022: स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर जानिए National Youth Day2022 के बारे में 

 

National Youth Day 2022 hindi : स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekananda) अपने ओजपूर्ण और बेबाक भाषणों के कारण काफी लोकप्रिय हुए, खासकर युवाओं के बीच. यही कारण है कि उनके जन्मदिन को पूरा राष्ट्र ‘युवा दिवस‘ के रूप में मनाता है.

National Youth Day 2022: ‘उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए’ का संदेश देने वाले युवाओं के प्रेरणास्रोत, समाज सुधारक युवा युग-पुरुष ‘स्वामी विवेकानंद’ (Swami Vivekananda) का आज जन्मदिन है.

National Youth Day 2022

12 जनवरी 1863 को उनका जन्म कलकत्ता (वर्तमान में कोलकाता) में हुआ था. हर साल इसी दिन (12 जनवरी) को राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day 2022) के रूप में मनाया जाता है.

युवा दिवस क्या है? युवा दिवस देश के युवाओं को समर्पित एक ऐसा दिन है जो देश की उन्नति और विकास में योगदान तथा उनकी भागीदारी को दर्शाता है। इसके आलावा यह युवाओं को जागृत करने और प्रेरणा से भर देने वाला दिन है। इसलिए हर साल राष्ट्रीय स्तर पर 12 जनवरी को और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 12 अगस्त को युवा दिवस मनाया जाता है।

राष्ट्रीय युवा दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?National Youth Day 2022

भारत में प्रतिवर्ष 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जी की बर्थ एनीवर्सरी को नेशनल यूथ डे के रूप में मनाने का फैसला भारत की केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 1984 में लिया गया जिसके बाद 12 जनवरी 1985 को पहला युवा दिवस मनाया गया।

Rashtriya Yuva Diwas मनाए जाने का मुख्य उद्देश्य युवाओं को ऊर्जावान बनाना और उन्हें सद्बुद्धि और सही मार्ग पर अग्रसर करना है। स्वामी विवेकानंद जी ने हमेशा से ही युवाओं को देश का भविष्य और अपनी आशाओं को युवा वर्ग पर टिका बताया है।

स्वामी विवेकानंद के 10 अनमोल विचार

  1. उठो, जागो और तब तक नहीं रुको, जब तक कि लक्ष्य न प्राप्त हो जाए.
  2. जिस समय जिस काम के लिए प्रतिज्ञा करो, ठीक उसी समय पर उसे करना ही चाहिए, नहीं तो लोगों का विश्वास उठ जाता है.
  3. जब तक आप खुद पर विश्वास नहीं करते, तब तक आप भगवान पर विश्वास नहीं कर सकते.
  4. सत्य को हजार तरीकों से बताया जा सकता है, फिर भी हर एक सत्य ही होगा.
  5. जिस दिन आपके सामने कोई समस्या न आए, आप यकीन कर सकते हैं कि आप गलत रास्ते पर सफर कर रहे हैं.
  6. विश्व एक व्यायामशाला है, जहां हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं.
  7. यह जीवन अल्पकालीन है, संसार की विलासिता क्षणिक है, लेकिन जो दूसरों के लिए जीते हैं, वे वास्तव में जीते हैं.
  8. जिस तरह से विभिन्न स्रोतों से उत्पन्न धाराएं अपना जल समुद्र में मिला देती हैं, उसी प्रकार मनुष्य द्वारा चुना हर मार्ग चाहे वह अच्छा हो या बुरा, भगवान तक जाता है.
  9. हम वो हैं, जो हमें हमारी सोच ने बनाया है इसलिए इस बात का ध्यान रखिए कि आप क्या सोचते हैं. शब्द गौण हैं, विचार रहते हैं, वे दूर तक यात्रा करते हैं.
  10. उठो मेरे शेरों, इस भ्रम को मिटा दो कि तुम निर्बल हो, तुम एक अमर आत्मा हो, स्वच्छंद जीव हो, धन्य हो, सनातन हो, तुम तत्व नहीं हो, न ही शरीर हो, तत्व तुम्हारा सेवक है, तुम तत्व के सेवक नहीं हों.

 

One thought on “National Youth Day 2022: राष्ट्रीय युवा दिवस 2022 स्वामी विवेकानंद जी की जयंती”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *