pragatishil kisan samman yojana: हरियाणा सरकार की तरफ से मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के तहत कृषि एवं कृषि से संबंधित क्षेत्र में कृषि प्रणालियों को अपनाते हुए प्रगतिशील किसानों को और ज्यादा मोटिवेट करने के लिए उन्हें सम्मानित किया जाता है।

pragatishil kisan samman yojana: इस योजना के तहत चयनित किसानों को कृषि तथा संबंधित क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए नकद पुरस्कार दिया जाता है, जिसके तहत राज्य सत्र पर तीन पुरस्कार होते हैं।

pragatishil kisan samman yojana क्या है

हरियाणा मुख्यमंत्री प्रगतिशील किसान सम्मान योजना 2022 के माध्यम से जिन किसानों का चयन किया जाएगा, उन सभी किसान भाइयों को पुरस्कार के रुप में तय की गई राशि दी जाएगी। Mukhyamantri Pragatishil Kisan Samman Yojana के माध्यम से जैविक खेती, पानी की बचत, फसल अवशेष प्रबंधन, नई तकनीक, टिकाऊ कृषि, एकीकृत कृषि प्रणालियों आदि को अपनी खेती कुशलता से जोड़ने पर उगाई हुई फसलों के आधार पर योजना के माध्यम से किसानों का चयन किया जाएगा। चयन किये गए किसान भाइयो में योजना के तहत प्रत्येक वर्ष 70 से 75 लाख रूपए पुरुस्कार के रूप में दिए जायेगे। Haryana Pragatishil Kisan Samman Yojana में किसानों का चयन पहली तथा दूसरी कैटेगरी के आधार में किया जाएगा

pragatishil kisan samman yojana

जिसमें पहला नगद पुरस्कार ₹5 लाख होता है जो कि प्रदेश के एक किसान को चयनित करके दिया जाता है। दूसरा ₹3 लाख रुपए का पुरस्कार है जो कि प्रदेश के 2 किसानों को मिलता है। वहीं तीसरा ₹1 लाख होता है जो कि प्रदेश के 5 किसानों को दिया जाता है। इसके अलावा जिला स्तर पर सांत्वना पुरस्कार दिया जाता है जिनकी संख्या 88 रखी गई है जो ₹50000 की राशि प्रगतिशील किसानों को दी जाती है। यह स्कीम 10 एकड़ भूमि रखने वाले प्रगतिशील किसानों के लिए है।

(pension.raj.nic.in) Rajasthan pension ppo status 2022 देखे पूरा विवरण

e-SHRAM card Rajasthan -5 मिनट में घर बैठे ऑनलाइन बनाएं ई-श्रम कार्ड,सरकार देने वाली है जल्द फायदा

इसके अलावा पांच से 10 एकड़ के बीच में जो किसान लीक से हटकर काम कर रहे हैं उन्हें प्रत्येक जिले के 4 किसानों को ₹50000 प्रति पुरस्कार दिया जाता है। उनकी संख्या भी 88 रखी गई है। इस योजना के तहत 5 एकड़ से कम भूमि वाले किसानों को भी पुरस्कृत किया जाता है। वह किसान जिनके पास 5 एकड़ से कम भूमि है और वह बागवानी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रहे हैं उन्हें प्रतियोगिता में हिस्सा दिलवाया जाता है और ₹10000 प्रति एकड़ जोकि अधिकतम ₹50000 प्रति किसान को नकद धनराशि के रूप में पुरस्कृत किया जाता है।

अगर आप भी प्रगतिशील किसान हैं और आप परंपरागत खेती से हटकर आधुनिक खेती कर रहे हैं तो इस योजना के तहत अपना आवेदन कर सकते हैं। जिस की विस्तार से जानकारी नीचे पीडीएफ के रूप में दी जा रही है। वहीं अधिक जानकारी आप agriharyana.gov.in वेबसाइट या कृषि विभाग के जिला कार्यालय में जाकर हासिल कर सकते हैं। 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *