Udan Yojana Rajasthan 2021: उड़ान योजना के तहत राजस्थान की 1.20 करोड़ महिलाओं-बालिकाओं को मिलेगा लाभ

Udan Yojana Rajasthan :अशोक गहलोत सरकार ने अपने तीन साल पूरे होने के उपलक्ष्य में महिलाओं और बालिकाओं को बड़ी सौगात दी है. राजस्थान में आज ‘उड़ान योजना’ का शुभारंभ किया है।

जयपुर. राजस्थान में 10 से 45 वर्ष तक की 1.20 करोड़ महिलाओं और बालिकाओं को निशुल्क सेनेटरी नैपकिन (Sanitary napkins) का वितरण किया जाएगा. अशोक गहलोत सरकार (Ashok Gehlot Government) की तीसरी वर्षगांठ पर प्रदेश को इस ‘उड़ान योजना’ (Udan Yojana Rajasthan) की सौगात मिली है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित समारोह में योजना का शुभारंभ किया. योजना के तहत 10 से 45 वर्ष तक की महिलाओं को निशुल्क सेनेटरी नैपकिन का वितरण किया जाएगा. राजस्थान इस तरह की पहल करने वाला देश का पहला राज्य है.

Udan Yojana Rajasthan

 

Udan Yojana Rajasthan के तहत कही ये बात

इंदिरा महिला शक्ति निधि के तहत संचालन

महिला एवं बाल विकास विभाग की इस योजना का संचालन इंदिरा महिला शक्ति निधि से होगा. समारोह में योजना के शुभंकर और लोगो का भी विमोचन किया गया है. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि इस योजना के लिए धन की कमी नहीं आने दी जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस तरह कोरोना के दौरान काम हुआ उसी तरह का काम उड़ान योजना को सफल बनाने के लिए होना चाहिए.

Join on whatapps

Join on telegram

प्रथम चरण में योजना के लिए 200 करोड़ का बजट

महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश के मुताबिक योजना से प्रदेश की 1 करोड़ 20 लाख महिलाओं को लाभान्वित किया जाएगा. पहले चरण में 28 से 30 लाख महिलाएं और बालिकाएं लाभान्वित होगी. प्रथम चरण में योजना के लिए 200 करोड़ का बजट रखा गया है. मंत्री ममता भूपेश ने कहा कि महिलाओं-बालिकाओं को माहवारी को लेकर चुप्पी तोड़ने की जरुरत है.

जुड़े रहे नागौर टाइम्स से

सोशल मीडिया पर छाई योजना उड़ान योजना

लॉन्च होने के साथ ही यह योजना सोशल मीडिया पर छा गई और ट्वीटर पर पहले नंबर पर ट्रेंड हुई. हैश टैग के साथ राजस्थान की उड़ान ट्वीटर पर जबर्दस्त ट्रेंड हुई. देशभर में लोगों ने इस योजना की शुरुआत की प्रशंसा की. फिल्म अभिनेत्री तापसी पन्नू ने भी अपने ट्वीट के जरिये राजस्थान सरकार की इस योजना की तारीफ की.

स्कूल-कॉलेजों के माध्यम से भी वितरण होगा

मंत्री ममता भूपेश ने योजना के शुभंकर की जानकारी देते हुए बताया कि इसे ‘सयानी’ नाम दिया गया है. इसमें मां और बेटी का चित्र है. बेटी जब सयानी होती है तो मां को अपनी तकलीफ के बारे में बताती है और मां को इसे लेकर उसे समझाने की जरुरत है. उन्होंने कहा कि माहवारी से जुड़े मसलों पर आज भी खुले प्लेटफॉर्म पर चिंता नहीं होती जबकि 65 फीसदी महिलाओं में गंभीर बीमारियां स्वच्छता की कमी से जुड़ी होती हैं. योजना को क्रियान्वित करने में विभाग के 2 लाख मानदेयकर्मी लगेंगे. इसके साथ ही स्कूल-कॉलेजों के माध्यम से भी नैपकिन का वितरण होगा.

6 thoughts on “Udan Yojana Rajasthan 2021,उड़ान योजना राजस्थान क्या है”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *